खाटू धाम मन्दिर से यह 3 चिज किस्मत वालो को मिलती हे | जिसे मिल गयी उस की किस्मत बदल गयी | Khatu Shyam Mandir Chamatkar

shyam baba ji ke chamatkar
shyam baba ji ke chamatkar

खाटू श्याम ( Khatu Shyam ) को भगवान श्री कृष्ण के कलयुगी अवतार के रूप में जाना जाता है। ऐसा कहे जाने के पीछे एक पौराणिक कथा हाथ है

वैसे तो आपने खाटू श्याम चमत्कार ( khatu shyam ji ke chamatkar ) के बारे में कई बार सुना और पढ़ा होगा लेकिन आज हम एक ऐसे खाटू श्याम चमत्कार ( khatu shyam chamatkar ) के बारे में बताएंगे जो बहुत कम लोगों को पता है

ईस लेख में आप जाने गे खाटू श्याम मंदिर चमतकर (Khatu Shyam Mandir Chamatkar) से संबंधित चीजो के बैरे में। वो कोन सी 3 चीज है जो खाटू श्याम मंदिर से अग्र अपको मिल गई तो अप्की जिंदगी बादल जाएगी।

Khatu Shyam Ji Ke Chamatkar – खाटू श्याम चमतकर

जय श्री श्याम जैसे क्या आप सब जानते हैं कि बाबा के मंदिर में हर कोई जाता है और श्याम जी का जयकारा लगाता है

पार हाल ही में मुजे अपना एक मित्र, जो खाटू श्याम मंदिर के पुजारी के बहुत नजदीक है, अनहोने मेरे मित्र को एक ऐसी बात बात बताई जिस्को सुनकर मैं भी हेयरन हो गया

उसने बताया के बहुत कम लोग जानते हैं बाबा के दरबार से मिलने वाली उन 3 चीज़ें के बारे में, जो बहुत ज्यादा चमत्कारी है और माना जाता है कि जिसे यह तीनों चीजें मिल गई उसकी समझो किस्मत बदल गई

जानते हैं की खाटू धाम श्याम बाबा के दरबार से मिलाने वाली वाह कौन सी 3 चीजें हैं जो आपकी जिंदगी बादल सक्ति है पर जो सिरफ किस्मत वालों को ही मिलीती है

प्रथम चीज: लाल रंग के गुलाब

लाल रंग के गुलाब बाबा जी के मंदिर में चढ़ाए जाते हैं और सुना है कि बाबा जी बहुत खुश होते हैं और वापिस हमें भी बहुत खुशियां देते हैं किस्मत वाली बात तो ये है कि वो गुलाब किस किस को मिलता है और ये गुलाब तो सिर्फ़ किस्मत वालों को ही मिलते हैं

यह भी माना जाता है कि जिस को वो गुलाब मिलते हैं अगर उसको हम अपनी बुक्स के अन्दर रखें किताबों के अंदर रखे तो पढ़ाई के ऊपर बाबा जी की बहुत मेहनत होती है

अगर वो गुलाब आप किताबों के अंदर रखते हों तो आपका मन शांत हो जाएगा और पढ़ाई में पूरा ध्यान रहेगा और आपका पूरा ध्यान पढ़ाई के ऊपर लगने लग जाएगा

दूसरी चीज: बागा का 1 टुकड़ा मिलना

Khatu Shyam Baba Baga क्या होता है?

Khatu shyam chamatkar का दुसरा हिस्सा है shyam baba ka Baga.

बागा बाबा जी की पोशाक (shyam baba dress) को कहा जाता है जो कि बसंती रंग की होती है

बागा 1 मीटर का एक पिला सूट कपड़ा होता है जो हर समय बाबा श्याम के साथ बांध रहता है| वाघा दो प्रकोप का होता है एक अंद्रुनी बागा एक बाहरी बागा

बाहरी बागा:

बाहरी बागा जो होता है वह आपके देखा होगा के श्याम बाबा के शीश के नीचे वाला जो ड्रेस और जो कपड़ा होता है उसे बहारी बागा कहते हैं इसे हर रोज बदला जाता है और इस्का कोई ज्यादा महत्व नहीं होता

आप्ने देखा होगा के बाहरी बागा डिजाइन किया होता है रंग-बिरंगे फूल बने हुए होते हैं सजावत की हुई होती है जैसी की आज की दुनिया चहती है

बाहरी बागा एक संदेश देता है की अगर सजावत के पीछे भागोगे तो ऐसे ही दूर फेंक दिए जाएंगे और कोई भी आपको नहीं चाहे गा

बाहरी बागा का मतलब है की आप सिर्फ एक वास्तु हो और आपकी कोई कीमत नहीं है

अंद्रुनी बागा:

अंद्रुनी बागा जो होता है वह बाहरी बागा के नीचे पहनया हुआ होता है और यह साल में सिरफ एक बार बदला जाता है

Ye vagha bilkul plain hota hai. Is par kisi b trah ka design ya print nahi hota bahari vagha ki tra.

यह बागा बाबा जी को बहुत प्यारा है इसिलिए इसे 365 दिन पूरे होने पर साल की पहली बसंत पंचमी को ही बदला जाता है और भक्तों में बंट दिया जाता है और भक्त भी लेने के लिए बहुत दूर से आते हैं क्योंकि जैसे कहते हैं की इसका अगर एक टुकड़ा भी मिल जाए तो उसकि किस्मत बादल देता है

तो अंद्रुनी बागा संदेश देता है के जीतना सिंपल रहोगे साफ रहोगे तो आप शायम बाबा जी के पास रहो गे.

प्रथम पंचमी वाले दिन को बागा मिलना बहुत अच्छी बात होती है और यह भी माना जाता है कि 1 छोटा सा टुकड़ा मुर्दे को भी जिंदा कर देता है

अगर इस भागों को आप अपने पास रखते हों और इसको लॉकेट के अन्दर डाल कर लाल कपड़े के अंदर रखने से बाबा जी की मेहर बहुत होती है

अगर आप इस बागा को अपने रिश्तेदारों और किसी के भी साथ ज्यादा शेयर करते हों तो उससे खुशियां दोगुनी हो जाती है

अगर आप 1 छोटा सा टुकड़ा भी किसी को भी दे दोगे तो भी आपके ऊपर कृपा बनी रहेगी

यह भी माना जाता के इस बागा को जितना भी ज्यादा शेयर किया जाए खुशियां उतनी ही घर में आती है

तीसरी चीज: दूसरी बार दर्शन

और लास्ट में तीसरी चीज यह बहुत ही ज्यादा जरुरी चीज है जैसे कि हर कोई भक्त दिल से बाबा जी को मानता है लेकिन कई बार क्या होता है कि कुछ छोटी छोटी सी गलतियां हो जाती हैं जिससे कई बार बहुत बड़ा नुक्सान भी हो जाता है

और यही चीज सबसे ज़्यादा ज़रूरी है कि वापस श्याम जी के मंदिर में जाकर वहां पे उनके दर्शन होना यह अपने आप में ही बहुत बड़ी बात है और जिस भी भक्त को जो मन से चाहता है उसको सीधा बाबा जी के दर्शन होते हैं तो वो बहुत ही भाग्यशाली होता है

और यही वो 3 चीज़ें है सिर्फ किस्मत वालों को ही मिलती है

श्याम बाबा के चमतकार की कहानीया

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.